New Hindi Songs Geet Kavita Headline Animator

Wednesday, January 28, 2015

पायलिया भाग दो - नया हिन्दी गाना गीत कविता

पायलिया भाग दो

पायलिया भाग दो - नया हिन्दी गाना गीत कविता

लड़का : तेरी दो पैसे की पायलिया पिया रून झुन रून झुन करती है
कहीं हो न जाए जग में ज़ाहिर, मेरी मोहब्बत डरती है
लड़की : छोटा सा दिल तेरा सांवरी, धक् धक् धक् धक् करता है
मै जानूं या तूं जाने, ये बिना बात ही डरता है

लड़की : सांझ सवेरे तुझसे मिलकर, सबसे नज़र चुराऊं मैं
करके याद मिलन की बातें, मन ही मन शरमाऊं मैं
लड़का : मेरा भी कुछ हाल यही है, कहीं चैन ना पाऊं मैं
बिन तेरे कुछ याद नहीं, इस मन को क्या समझाऊं मैं
मेरे प्यार के मूक गवाह ये आसमान और धरती हैं
लड़की : मेरी भी दो अँखियाँ साजन तेरे प्यार का दम ही भरती हैं

लड़का : तेरे प्यार की गहराइयों में, जब से गोता खाया है
ना इस जहाँ ना उस जहाँ, कहीं चैन न पाया है
लड़की : दिल की हर धड़कन में साजन, तेरा रूप समाया है
सूरा बिना ही दिलो दिमाग पे, अज़ीब नशा सा छाया है
करके याद मिलन की बेला, मेरी कजरी अँखियाँ झरती हैं
लड़का : तेरी कारी-कारी कजरारी अंख, मेरे चैन को हरती हैं

रचयिता : आनन्द कवि आनन्द कॉपीराइट © 2015
पायलिया भाग दो - नया हिन्दी गाना गीत कविता 

No comments:

Post a Comment